Chemistry Important Questions, Chemistry Important Question PDF Download. हम आपके लिए Chemistry के महत्वपूर्ण प्रश्नों को लेकर आयें है। हमारे द्वारा दियें गयें इन प्रश्नों से लगभग हर बार Exams में पूछें जातें है। तो हमारे द्वारा दिये गयें प्रश्नों को पढें और यदि आप इन प्रश्नों को PDF में Download करना चाहतें है। तो इसे आप PDF में Download कर सकतें है।

Chemistry Questions in Hindi

Note- आप नीचे दी गयी Link के माध्यम से इसे PDF में भी Download कर सकतें है।

  1. आधुनिक रसायन विज्ञान का पिता सेवोसियर को कहा जाता है।
  2. विश्लेषिका रसायन में विभिन्न द्रव्यों का गुणात्मक तथा मात्रात्मक विश्लेषण किया जाता है।
  3. सबसे हल्का तत्व हाइड्रोजन है।
  4. वायु समांग मिश्रण का उदाहरण है।
  5. मिश्र धातुये समांगी मिश्रण का उदाहरण होती है।
  6. वाय, गैस एवं जलवाष्प का मिश्रण है।
  7. एल्कोहल एवं जल का मिश्रण समांगी मिश्रण है।
  8. पेट्रोल एवं जल का मिश्रण समांगी  मिश्रण है।
  9. तांबा प्रदूषित रहित तत्व है।
  10. कार्बन मुख्यतः एक मिश्रण है लोहा एवं कार्बन का।
  11. आसुत जाल आसवन विधि द्वारा प्राप्त किया जाता है।
  12. निलंबन विष्मांगी की तरह का मिश्रण है।
  13. कोलॉइड विषमांगी की तरह का मिश्रण है।
  14. द्रव की प्लाज्मा अवस्था विद्युत की सुचालक होती है।
  15. आर्सेनिक एवं एंटिमनी उपधातु श्रेणी के तत्व है।
  16. ब्रोमीन कमरे के ताप पर द्रव अवस्था में पाया जाता है।
  17. पीतल, तांबा एवं जस्ते का मिश्रण है।
  18. कोल्ड ड्रिंक में  कार्बन डाईआक्साइड़ गैस का जल में विलयन होता है।
  19. तांबा शुद्ध पदार्थ है।
  20. आर्सेनिक में धातु एवं अधातु दोनों तरह के तत्व पाये जातें है।
  21. नील्स बोर के माडल को आधुनिक भौतिकी की आधारसिला कहा जाता है।
  22. परमाणु का अधिकांस द्रब्यमान नाभिक में निहित होता है।
  23. नील्स बोर ने अपना परमाणु माड़ल 1913 ई. में प्रस्तुत किया।
  24. इलेक्ट्रान को नाभिक का चक्कर लगाने के लिए आवश्यक आभिकेन्द्र बल इलेक्ट्रान एवं नाभिक के बीच कार्यकारी स्थिर वैद्युत आकर्षण बल से प्राप्त होता है।
  25. रदरफोर्ड का परमाणु माडल परमाणु के स्थायित्व एवं रेखीय स्पेक्ट्रम की संतोषजनक व्याख्या नहीं प्रस्तुत कर सका।
  26. बोर एवं बरी ने साथ मिलकर तत्वों के इलेक्ट्रानिक विन्यास की योजना प्रस्तुत की थी।
  27. हाइड्रोजन के सूक्ष्म स्पेक्ट्रम की व्याख्या सोमरफील्ड ने की।
  28. हाइजेनबर्ग का अनिश्चितता का सिद्धांत बडे कणों पर लागु नहीं होता है। क्योंकि बडे कणों का द्रव्यमान अधिक होता है।
  29. परमाणु संरचना का आधुनिक विचार इलेक्ट्रान की तरंग प्रकृति के आधार पर आधारित है।
  30. हाइजेनबर्ग की अनिश्चितता सिद्धांत संवेग तथा स्थिति में अनिश्चितता विद्यमान होती है।
  31. परमाणु संरचना का आधुनिक विचार श्रांडिगर ने दिया।
  32. कक्षक की आकृति सबसे जटिल होती है।
  33. किसी कोश की कर्म संख्या (Order) उस कोश में उपकोशों की संख्या व्यक्त करती है।
  34. किसी परमाणु या आयन के चुबंकीय गुणों की व्याख्या चक्रण क्वांटम संख्या करता है।
  35. P उपकोश में अधिकतम इलेक्ट्रानों की संख्या 6 हो सकती है।
  36. एक परमाणु में दो इलेक्ट्रानों की चारों संख्यायें समान नही हो सकती। यह पाउली का अपवर्जन नियम है।
  37. एक मोल इलेक्ट्रान का भार 0.55 मिग्रा. होता है।
  38. परमाणु की बाह्यतम कक्षा मं उपस्थित इलेक्ट्रान संयोजी इलेक्ट्रान होतें है।
  39. इलेक्ट्रान की खोज जे.जे. थॉमसन ने की।
  40. इलेक्ट्रान का द्रव्यमान हाइड्रोजन परमाणु का 1/1837 वें भाग के बराबर होता है।
  41. परमाणु के नाभिक की खोज 1911 ई. में रदरफोरड़ के द्वारा की गयी थी।
  42. किसी तत्व के परमाण्विक भार को एटॉमिक मॉस यूनिट ( a. m. u.) में व्यक्त किया जाता है।
  43. न्यूट्रान एक वैद्युत उदासीन कण है।
  44. हाइड्रोजन ही एक मात्र ऐसा तत्व है, जिसके सभी समस्थानिकों के नाम अलग-अलग होतें है।
  45. पोलोनियम (Po) सर्वाधिक समस्थानिकों वाला तत्व है।
  46. जीवाश्मों, मृत पेड़ पौधे की आयु निर्धारण ( कार्बन डेटिंग ) के लिए कार्बन के रेडियोसक्रिय समस्थानिक का उपयोग किया जाता है।
  47. सबसे मजबूत बंध एकल बंध ( Single Bond ) होता है।
  48. त्रिबंध से युक्त यौगिक सबसे क्रियाशील होतें है।
  49. विद्युत संयोजी यौगिकों के बंध युक्त यौगिकों के क्वथनांक अधिक होतें है।
  50. सोडियम क्लोराइड (NaCl) एवं कैल्शियम क्लोराइड में विद्युत् संयोजी बंध बनता है।
  51. अधिक इलेक्ट्रान बंधता वाला तत्व इलेक्ट्रान ग्राही प्रवृत्ति का होता है।
  52. विद्युत संयोजक यौगिकों में अणु संरचना का अभाव पाया जाता है।
  53. कार्बनिक यौगिकों में सह- संयोजक बंध पाया जाता है।
  54. सह-संयोजक यौगिकों के अणु आपस में वांडरवाल्स बल ले बंधे होतें है।
  55. सह- संयोजी यौगिक अध्रुवीय तथा कार्बनिक विलायकों में आसानी से घुल जातें है।
  56. ग्रेफाइट तत्व का अणु सह- संयोजक बंध होने के बावजूद विद्युत का सुचालक है।
  57. धात्विक ठोसों परमाणुओं के मध्य धात्विक बंध पाया जाता है।
  58. पुरानी पुस्तकों के पन्ने आक्सी करण के कारण पीले पड़ जातें है।
  59. आक्साइड बनाने की क्रिया को ऑक्सीकरण कहतें है।
  60. द्रव्यमान संरक्षण का नियम सर्वप्रथम लोमोनोसॉफ ने प्रतिपादित किया।
  61. हवा में चांदी के बर्तन का काला होना रासायनिक परिवर्तन है।
  62. दूध से दही का बनना रासायनिक परिवर्तन है।
  63. जल का वाष्प में परिवर्तन भौतिक परिवर्तन है।
  64. नोबल गैस समान गुणों वाइए रासायनिक तत्वों का एक समूह होता है। प्रमुख नोबल गैस हैं- हीलियम, नीऑन, आर्गन, क्रप्टन, जौनॉन रेडॉन।
  65. एक जलती हुई माचिस की तीली जब हाइड्रोजन गैस के सम्पर्क में आती है। तो वह बुझ जाती है। एवं चाप ध्वनि के बाद जल जाता है।
  66. प्रकाश संश्लेषण तथा श्र्वसन भी रासायनिक परिवर्तन है।
  67. पानी का चीनी में घुलना भौतिक परिवर्न का उदाहरण है।
  68. प्रिज्म से गुजरने पर श्वेत प्रकाश का सात रंगों में विभक्त होना भौतिक परिवर्तन है।
  69. गलन, वाष्पन, संघनन, हिमायन, आसवस, ऊर्ध्वपातन आदि भौतिक परिवर्तन है।
  70. जल में विद्युत प्रवाहित करने पर हाइड्रोजन एवं आक्सीजन प्राप्त होना रासायनिक परिवर्तन है।
  71. ऊष्माक्षेपी प्रतिक्रिया में ताप की उत्पति होती है।
  72. रासायनिक समीकरणं को द्रव्यमान संरक्षण के नियम द्वारा संतुलित किया जाता है।
  73. कच्चे फल का पकना रासायनिक परिवर्तन है।
  74. लोहे पर जंग, लोहे का आक्सीकरण होने के कारण लगती है।
  75. सिरके का मुख्य घटर एसिटिक एसिड़ है।
  76. अम्लो एवं क्षारो की पहचान के लिए मुख्यतः लिटमस पेपर फिनाफ्थेलिन और मेथिल ओरेंज का प्रयोग किया जाता है।
  77. लिटमस लाइकेने प्राप्त किया जाता है।
  78. अम्ल वर्षा मुख्यतः सल्फरडाई आक्साइड एवं नाइट्रस आक्साइड आदि के कारण होता है।
  79. चाय में टेनिक अम्ल पाया जाता है।
  80. सिरके में एसिटिक अम्ल पाया जाता है।
  81. घरों में सिरका स्टार्च के किण्वन के विधि द्वारा बनता है।
  82. अम्लो की अम्लीय गुणों हेतु उत्तरदीयी अम्लो के जलीय विलय में मुक्त हाइड्रोजन आयन होता है।
  83. अम्लो एवं क्षारो की आधुनिक संकल्पना लॉरी एवं ब्रॉन्स्टेड ने 1923 ई. में दी।
  84. जल में कार्बनडाई आक्साइड प्रवाहित करने पर बना सोडा वाटर अम्लीय प्रकृति का होता है।
  85. दूध में लैक्टिक अम्ल पाया जाता है।
  86. अचार के परिक्षण हेतु उसमें एसिटिक एसिड़ मिलाया जाता है।
  87. सेब में मैलिक अम्ल पाया जाता है।
  88. फोटोग्राफी में अॉक्जेलिक अम्ल प्रयुक्त होता है।
  89. इमली में टार्टरिक अम्ल पाया जाता है।
  90. चाय में टेनिक अम्ल पाया जाता है।
  91. खाद्य पदार्थों के संरक्षण में बेंजोइक अम्ल प्रयोग किया जाता है।
  92. जल की कठोरता सोडियम कार्बोनेट एवं कैल्शियम हाइड्रोआक्साइड द्वारा दूर की जाती है।
  93. मक्खन में ब्यूटाईरिक अम्ल पाया जाता है।
  94. फार्मिक अम्ल एवं एसिटिक अम्ल दोनों की कार्बनिक एवं दुर्बल अम्ल है।
  95. शीतल पेयों एवं एसिटिक अम्ल दोनों की कार्बनिक एवं दुर्बल अम्ल है।
  96. बेकिंग पाउडर निर्माण में प्रयुक्त अम्ल टार्टरिक अम्ल है।
  97. चीटियों में फार्मिक अम्ल पाया जाता है।
  98. लंबे समय तक कठोर शारीरिक श्रम के पश्चाच मांसपेशियों में थकान पेशियों में लैक्टिक अम्ल के कारण होता है।
  99. कोकाकोला का खट्टा स्वाद फास्फोरिक अम्ल के कारण होता है।
  100. कपडे के स्याही एवं जंग के दाग-धब्बे छुडाने हेतु अॉक्जेलिक अम्ल का प्रयोग किया जाता है।
  101. नींबू का खट्टापन इसमें उपस्थित सिट्रिक अम्ल के कारण होता है।
  102. घी की प्राकृतिक अम्लीय होती है। जिसका pH मान लगभग 6.5 होता है।
  103. वर्षा जल का pH मान 5.4 या कम होने को अम्ल वर्षा की संज्ञा देतें है।
  104. जठर रस में HCl अम्ल पाया जाता है।
  105. पौधों की अच्छी वृद्धि के लिए मृदा का pH मान 7 के आस पास होना चाहिए।
  106. मृदा का pH मान 8 से अधिक होना क्षारीय मृदा कहलता है।
  107. pH मूल्य किसी घोल के अम्लीय होने का मूल्यांकन दर्शाता है।
  108. फलों के रस के परिक्षण के लिए सोडियम बेंजोइक का उपयोग किया जाता है.
  109. सोडियम बाई कार्बोनेट का वाणिज्य ना बेकिंग सोडा है।
  110. मानव शरीर सामान्यतः 7 से 7.8 pH के बीच कार्य करता है।

 Chemistry Questions Notes PDF Download 

PDFमहत्वपूर्ण जानकारी
Pages11
PDF Size437 KB
languageHindi

Chemistry Questions Notes PDF Download